Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

BED Course Change: बीएड की जगह शुरू हुआ नया कोर्स, अध्यापक बनने के लिए योग्यता 12वी पास

यदि आप टीचर बनना चाहते हैं और अपने b.ed करने के बारे में सोच रखा है तो आपके लिए यह खबर बहुत ही जरूरी है सरकार की नई शिक्षा नीति ने b.ed कोर्स करने वालों को बड़ा झटका दिया है बीएड कोर्स वर्तमान में अध्यापक बनने के लिए अनिवार्य रहता है लेकिन वर्तमान में नेशनल काउंसलिंग फॉर टीचर एजुकेशन नया कोर्स लाया जा रहा है यह कोर्स शिक्षा नीति 2020 के तहत बनाया गया है।

बीएड के स्थान पर यह कोर्स करने पर आप टीचर बन सकते हैं इस नई कोर्स का नाम आईटीईपी रखा गया है इस साल यानी शैक्षणिक सत्र 2023-24 में यह 41 विश्वविद्यालय में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर लागू किया गया है इसमें 4 वर्षीय बीएड प्रोग्राम शुरू किया गया है नेशनल टेस्टिंग एजेंसी इस नेशनल काउंसलिंग फॉर टीचर एजुकेशन एग्जाम के लिए अगले सप्ताह से ऑनलाइन विंडो खुलेगा राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद नई शिक्षा नीति 2020 की सिफारिश के तहत यह कोर्स लागू किया गया है यह 4 वर्षीय बीएड प्रोग्राम है।

BED Course Change
BED Course Change

B.ED की जगह शुरू हुआ नया कोर्स

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब सरकारी स्कूलों में प्राइमरी टीचर बनने के लिए बीएड कोर्स मान्य नहीं होगा यानी कि अगर आप प्राइमरी टीचर बनना चाहते हैं तो बीएड कोर्स मान्य नहीं है अब इसकी जगह आपको आईटीईपी कोर्स करना होगा इसे नेशनल काउंसलिंग फॉर टीचर एजुकेशन के द्वारा तैयार किया गया है 4 साल की कोर्स के बाद अब साल 2030 के बाद आईटीईपी कोर्स के जरिए ही शिक्षक भर्तियों को पूरा किया जाएगा यह कोर्स योग्यता में शामिल होगा।

पहले बीएड कर चुके वह अभ्यर्थी क्या करें

यहां पर हम आपको बता दें कि बीएड कोर्स आगे भी जारी रहेगा मगर यह केवल एकेडमी होगा इसके बाद में पोस्ट ग्रेजुएट और पीएचडी कर सकेंगे लेकिन अगले सेशन से ज्यादातर b.ed कॉलेजों में आईटीईपी कोर्स का ऑप्शन शुरू हो जाएगा इसमें धीरे-धीरे उच्च शिक्षा से लेकर प्राथमिक शिक्षा तक नेशनल एजुकेशन पॉलिसी को लागू किया जा रहा है यही नहीं अध्यापक के क्षेत्र में नए बदलाव भी होने जा रहे हैं इसी क्रम में साल 2030 से 4 वर्षीय बीएड या 4 वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम यानी आईटीईपी डिग्री को अनिवार्य करने की तैयारी की गई है।

जिन विद्यार्थियों ने b.ed कर लिया है या डीएलएड कोर्स कर लिया है वह लोग परेशान हो गए हैं कि हमारा बीएड कोर्स बर्बाद हो जाएगा और हम भविष्य में क्या करेंगे सरकार ने अभी आईटीईपी कोर्स को सिर्फ विकल्प के तौर पर जारी किया है वर्ष 2030 या इसके बाद भी बीएड कोर्स मान्य होगा शिक्षक बनने के लिए।

आईटीईपी कोर्स इस प्रकार से होता है

आईटीईपी कोर्स करने के लिए अगले सेशन से सभी के बीएड कॉलेज में यह शुरू किया जाएगा वहीं कुछ कॉलेजों में इस साल यह शुरू कर दिया गया है इस साल यह ट्रायल के तौर पर शुरू है आईटीपी कोर्स के लिए कॉलेज में प्रवेश कॉमन एडमिशन टेस्ट के आधार पर किया जाएगा इसके लिए आपको पहले आवेदन करना होगा आवेदन के पश्चात एग्जाम ली जाएगी।

आईटीईपी कोर्स के बारे में कुछ सामान्य जानकारी Check

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

आईटीईपी कोर्स नई शिक्षा नीति 2020 की पाठ्यक्रम के लिए शुरू किया गया है इस कोर्स को वर्ष 2023 के बाद शिक्षक बनने के लिए अनिवार्य किया जाएगा वर्तमान में आईटीईपी कोर्स की पढ़ाई देश भर के कुल 41 विश्वविद्यालय में शुरू कर दी गई है इस कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के द्वारा कराया जाएगा कोर्स के लिए योग्यता 12वीं पास रखी जाएगी।

Leave a comment